Breaking

ITI वेल्डर ट्रेड की जानकारी | ITI Welder Course Details In Hindi

Welder ट्रेड का इतिहास बहुत पुराना है ! इस ट्रेड के अन्दर दो धातुओ को आपस मे जोडा जाता है तथा आज के युग मे कइ सारे कार्यो मे इस ट्रेड कि महत्वपूर्ण भुमिका रही है जिसके बारे मे आप विस्तृत जानकारी हमने निचे बताई है |


ITI Welder Course Details In Hindi

आईटीआई वेल्डर ट्रेड क्या है 

Welder Trade एक Diploma Course है जो एक साल का होता है . इसलिए हर साल लाखों विद्यार्थी वेल्डर ट्रेड से ITI करते हैं लेकिन सभी विद्यार्थियों के अच्छे अंक नहीं आते हैं जिसके कारण उनकी आईटीआई का डिप्लोमा अच्छे अंको से पास नहीं होता है ओर कई विद्यार्थी उच प्रतिश्ठानो मे कार्य करने से वंचित रह जाते है ! परंतु कई विद्यार्थी इस कोर्स के बाद स्व्यम का व्यवसाय भी करते है |

कार्य- (1) वेल्डर व्यव्साय के अंदर कम्पनी मे वेल्डिंग फील्ड के अनदर कार्य करने का अवसर प्रदान होता है ! (2) Industrial Maintenance Welders. (3) Sheet Metal Workers. ... (4) Manufacturing Welders. Share. ... (5) हवाई जहाज बानाने मे इत्यादी!



आईटीआई वेल्डर ट्रेड में कौन कौन से सब्जेक्ट होते है

Welder Trade के अंदर कुल 5 Subject होते है जो निचे दिए गए क्रमानुसार है (1) ट्रेड थ्योरि - इस सब्जेक्ट के अंदर वेल्डर ट्रेड मे किस प्रकार के कार्य किये जाते है उसके बारे मे पुर्ण जानकारि प्रदान कि जाति है !
(2) ट्रेड प्रेक्टिकल -इस सब्जेक्ट के अंदर वेल्डर ट्रेड से सम्बंधित प्रयोगिक कार्य निष्पादित किया जाता है जिसमे स्टुडेंट को वेल्डर ट्रेड मे किस प्रकार से दो धातुओ को आपस मे जोडा जाये कार्य सिखाया जाता है !
(3) एम्प्लोयाबिलिटी स्किल्स- इस सब्जेक्ट के अंदर स्टुडेंट के व्यवहार कोशल कि ट्रेनिंग प्रदान कि जाति है किस प्रकार स्टुडेंट को किसि कम्पनि के लिये हो रहे इंटरव्यु मे किस प्राकार से अपने आप को दर्शाना है.उसके बारे मे सिखाया जाता है!
(4) इंजनिरियंग ड्रइंग- इस सब्जेक्ट के अंदर स्टुडेंट को किसी भी आक्र्ति को किस प्रकार से देखना है ओर ट्रेड मे जो ओजार उपकरण होते है उनका डाईग्राम केसे बनता है उसका ज्ञान दिया जाता है1
(5) वर्कशॉप कैलकुलेशन एंड साइंस - इस सब्जेक्ट के अंदर स्टुडेंट को सामान्य गणीत के सवालो को सिखाया जाता है!



आईटीआई वेल्डर जॉब
वेल्डर ट्रेड के माध्यम कई प्रकार के रोजगार एवम स्वरोजगार के अवसर खुल जाते है जेसे किसि कम्पनि मे ओपरेटर का कार्य करना ! स्वयम कि निजि दुकान डालना इत्यादि कई प्रकार के कार्य ह्मे इस व्यव्साय के माध्यम से शुरु कर सकते है |

इन्हें भी पढ़े -


निष्कर्ष - वेल्डर ट्रेड का कोर्स कर आप कम समय मे एक अछि सि जोब हासिल कर सकते है इस के माध्यम से आप स्वयम का रोजगार शुरु कर सकते है |
--------------


2 comments: